News

परेड में बेहोश हुए एयरफोर्स जवान के पास हाल चाल लेने गए पीएम उन्होंने कहा- सेहत का ध्यान रखो

सेशेल्स के राष्ट्रपति डैनी फार को राष्ट्रपति भवन में गार्ड ऑफ ऑनर दिए जाने के दौरान भारतीय वायुसेना का एक जवान गर्मी के कारण बेहोश होकर गिर गया| कार्यक्रम के खत्म होने और फार के जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जवान का हालचाल जानने उसके पास पहुंचे| मोदी ने जवान से कहा कि वह अपनी सेहत का खयाल रखे|

प्रधानमंत्री कार्यालय के सूत्रों ने बताया कि कुछ मिनट जवान के पास रुपएकने के बाद मोदी अपने आधिकारिक आवास के लिए रवाना हो गए| बता दें कि सेशेल्स के प्रेसिडेंट फार अपने पहले द्विपक्षीय दौरे पर भारत आए हुए हैं. राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को उनका स्वागत किया|फार को गार्ड ऑफ ऑनर दिए जाने के दौरान जवान बेहोश होकर गिर पड़ा था|

राष्ट्रपति डैनी फार ने की पीएम मोदी से बातचीत

पीएम मोदी ने जवान का हाल चाल जाना. आज सेशेल्स के राष्ट्रपति डैनी फार का औपचारिक स्वागत किया गया था| राष्ट्रपति डैनी फार ने आज पीएम मोदी से बातचीत की| दोनों नेता रक्षा और सुरक्षा के क्षेत्रों सहित दोनों देशों के बीच व्यापक सहयोग की समीक्षा करेंगे|

साबरमती आश्रम भी गए राष्ट्रपति डैनी फार

अहमदाबाद और गोवा के दौरे के बाद फार कल दिल्ली पहुंचे थे, जिनकी आगवानी विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर ने की थी| फार अपने छह दिवसीय दौरे पर शुक्रवार को गुजरात पहुंचे थे| वह शनिवार को साबरमती आश्रम गये थे, जहां महात्मा गांधी 1917 और 1930 के बीच रहे थे|

गौरतलब है कि अहमदाबाद और गोवा के दौरे के बाद फार कल दिल्ली पहुंचे थे, जिनकी आगवानी विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर ने की थी। फार अपने छह दिवसीय दौरे पर शुक्रवार को गुजरात पहुंचे थे। वह शनिवार को साबरमती आश्रम गए थे, जहां महात्मा गांधी 1917 और 1930 के बीच रहे थे।

भारत ने सेशल्स को समुद्री सुरक्षा क्षमता बढ़ाने के लिए 10 करोड़ डॉलर कर्ज देने की घोषणा की

सोमवार को राष्ट्रपति भवन में उनका स्वागत राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया। डैनी फार ने सोमवार को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की समाधि राजघाट पर जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी। उन्होंने भारत और सेशल्स के संबंधों को अहम बताते हुए कहा कि मैं आज एक महान देश में खड़ा हूं। उन्होंने कहा कि भारत और सेशल्ज के बीच संबंध महत्वपूर्ण हैं और हम इन्हें नई ऊंचाई तक ले जाना चाहते हैं। फार अपने 6 दिवसीय भारत दौरे पर इसके पहले गोवा और गुजरात भी गए थे। वह शनिवार को साबरमती आश्रम गए जहां महात्मा गांधी 1917 और 1930 के बीच रहे थे।

 

 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top